सोने में निवेश कैसे करें ?

सोने में निवेश कैसे करें ?-How To Invest In Gold

दोस्तों हमने अपने ब्लॉग में बहुत सारे निवेश के तरीकों को बताया है जिनमें से एक निवेश का तरीका सोने में निवेश का भी है अब बहुत से लोगों को सवाल रहता है कि सोने में निवेश कैसे करें ?

सोना यानी Gold, हमारे भारत में सोने को एक निवेश से ज्यादा एक भावनात्मक चीज माना गया है आज से ही नहीं प्राचीन काल से ही भारत वासियों का सोने में एक अलग ही लगाव रहा है |

हमारे राजा महाराजाओं से लेकर आज की सरकार तक, सोने का एक अलग ही महत्व रहा है पहले बहुत सारा व्यापार केवल सोने की मदद से होता था | 

क्या आपको पता है कि सोना केवल आभूषण के अलावा एक प्रकार का निवेश भी होता है ?

आज हम आपको विस्तार से समझाएंगे कि सोना कैसे एक अच्छा निवेश होता है तथा सोने में कैसे निवेश करें, हम आपको अपने इस ब्लॉग की सहायता से आसान भाषा में यह बताएंगे |

वैसे तो बाजार में बहुत सारी कीमती  धातु होती हैं परंतु सोने को ही उच्च निवेश के रूप में देखा जाता है क्योंकि सोने में लिक्विडिटी यानी तरलता बहुत होती है |

उच्च लिक्विडिटी यानी तरलता का मतलब आप किसी भी चीज को बहुत आसानी से Sell या खरीद सकते हैं |

सोने की बहुत ज्यादा मांग तथा सोने में हाई लिक्विडिटी होने के कारण ही सोना भारत में एक बहुत अच्छा निवेश माना जाता है सोने में बहुत प्रकार से निवेश किया जाता है जिसको हम एक-एक कर विस्तार से समझेंगे |

हालांकि कई बार बाजार में सोने की कीमतों में गिरावट देखने को मिलती है लेकिन आमतौर पर यह लंबे समय तक नहीं रहता है और हमेशा मजबूत होता है। 

एक बार जब आप सोने में निवेश करने का मन बना लेते हैं, तो आपको सावधानीपूर्वक निवेश करने का तरीका तय करना चाहिए। 

यदि आप गोल्ड इनवेस्टमेंट प्लान और अन्य तथ्यों के बारे में अधिक जानना चाहते हैं जैसे कि गोल्ड खरीदने और सोने में निवेश करने के विभिन्न तरीके, कैसे ऑनलाइन गोल्ड में निवेश करें और बहुत कुछ, तो आप सही जगह पर हैं।

सोने में निवेश कैसे करें  -How to Invest In Gold ?

 

हम सब  सोने के महत्व को अच्छी तरह से पहचानते हैं आइए अब आज का सबसे महत्वपूर्ण  हिस्से की बात करते हैं कि सोने में कैसे निवेश करें ?

वैसे तो सोने (Gold) में निवेश करने के लिए कुछ पारंपरिक और कुछ Modern तरीकों का का उपयोग लोगों द्वारा किया जाता है |

अगर पारंपरिक तरीकों की बात करें तो लोग सोना Physical Format भौतिक रूप में खरीदते हैं भौतिक रूप से यहां हमारा मतलब आभूषण, सोने के सिक्के, सोने की महंगी कलाकृतियां आदि से है |

〉 निवेश क्यों जरूरी और निवेश कैसे करें ? Why Investment is so Important and How To Invest ?

और अगर मॉडर्न तरीके में सोचें तो केवल भौतिक रूप ही एक विकल्प नहीं है हमारे पास तमाम तरह के विकल्प मौजूद हैं सोने में निवेश करने के लिए जैसे कि गोल्ड ईटीएफ (Gold ETF), गोल्ड म्युचुअल फंड (Gold Mutual Fund) इत्यादि |

हम यहां सोने के निवेश को निम्नलिखित चार भागों में विभाजित कर रहे हैं आइए जानते हैं वह चार भाग कौन से हैं –

  1. Physical Gold (भौतिक गोल्ड)
  2. Gold ETF (Gold Exchange Traded Funds)  (गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स)
  3. Gold Mutual funds (गोल्ड म्यूचुअल फंड)
  4. Sovereign Gold Bonds (सॉवरेन गोल्ड बांड्स)

Physical Gold (भौतिक गोल्ड)

भौतिक रूप में सोने में निवेश कैसे करें यह बताने की जरूरत शायद ही किसी को क्योंकि इसमें आपको जैसे और धातु ए खरीदते हैं वैसे ही आप  भौतिक गोल्ड भी खरीद सकते है |

ऐसे तो सोना लोगों की भावनाओं से जुड़ा होता है फिर भी हम आपको यह बताना चाहते हैं कि यदि आप सोने को निवेश के रूप में देखते हैं तो भौतिक गोल्ड एक Average सा ही निवेश है |

 उसका कारण हम आपको आगे बताएंगे परंतु  सामान्य तौर पर लोग भौतिक गोल्ड को  उपयोग के रूप में देखते है |

Physical Gold एक अच्छा निवेश नहीं होता है ?

आइये समझते है कुछ Pros & Cons –

ProsCons
 भौतिक रूप में सोना खरीदने के कुछ लाभ भी हैं जिनमें सबसे पहला बात तो यह है कि जब भी आपको जरूरत है तब भी आप उसको कहीं पर भी  तथा किसी भी समय बेच सकते है |सबसे पहला और बड़ा कारण तो यह है कि अगर आप Physical Gold अपने पास रखते हैं तो आपको इसके चोरी होने  का डर हमेशा बना होता है |
भौतिक रूप में सोना खरीदने का दूसरा लाभ यह है कि आप भौतिक रूप से खरीदे गए  सोने में किसी भी बैंक अथवा jewellers  के यहां  गिरवी रखकर लोन प्राप्त कर सकते है |अगर आप Physical Gold  को चोरी होने से बचाने के लिए बैंक Locker में रखते हैं तो वहां पर आपको गोल्ड रखने के बदले बैंक को कुछ पैसे देने होते हैं जिसके कारण आपको गोल्ड से होने वाले फायदे में भी कमी होती है |
अगर आप सोने को Jewellery की तरह खरीद रहे हैं तो Jewelers  आपसे एक  अतिरिक्त मूल्य लेता है जिसको Making Charge बोलते है |
भौतिक रूप में सोना खरीदने से हो सकता है आप को दिया गया सोना मिलावटी हो तो जब भी आप इसको भविष्य में  बेचेंगे   तो हो सकता है उसका उतना मूल्य भी ना मिले जितने का आपने खरीदा  था |

Gold ETF (Gold Exchange Traded Funds)  (गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स)

Gold Exchange Traded Funds सोने में निवेश करने का एक मॉडर्न तरीका है आज हम आपको  बताएंगे कि Gold ETF  क्या है  तथा गोल्ड ईटीएफ के द्वारा सोने में निवेश कैसे करें ? 

Gold ETF (एक्सचेंज ट्रेडेड फंड)  फंड में निवेश  भौतिक रूप से सोना खरीदने के ही समान है लेकिन केवल यही अंतर है कि आप वास्तव में फिजिकल गोल्ड नहीं खरीद रहे हैं  बल्कि यहां पर आप सोने को डिजिटल फॉर्मेट में खरीद रहे हैं |

 आपको भौतिक सोने के भंडारण की परेशानियों से नहीं गुजरना पड़ेगा, इसके बजाय, खरीदा गया सोना डीमैट (कागज) प्रारूप में संग्रहीत किया जाता है। 

दूसरी ओर, गोल्ड फंड्स सोने की खनन कंपनियों में निवेश करते हैं और आपके द्वारा खरीदा गया सोना आपको इलेक्ट्रॉनिक रूप से डिमैट अकाउंट में  सुरक्षित कर देते है

 जिससे आपको इसके चोरी होने का या कागज खो जाने का कोई डर नहीं रहता है क्योंकि यह आपके डिमैट अकाउंट में सुरक्षित रहता है |

यहां पर भी  जब आप चाहे तब आप अपने द्वारा  खरीदा गया डिजिटल गोल्ड को कभी भी  बेच सकते है |  यहां पर भी आपको  अच्छी लिक्विडिटी मिलती है | 

Gold ETF में निवेश करने के लिए आपको एक डिमैट खाते (Demat Account) की आवश्यकता होती है |

दोस्तों आइये जानतें है Gold ETF के कुछ  Pros & Cons-

ProsCons
सोने को बाजार मूल्य में खरीदना लेकिन भौतिक रूप में नहीं। भौतिक रूप से सोना खरीदने की अपेक्षा में यहां पर लिक्विडिटी कम होती है |
चोरी का कोई जोखिम नहीं है क्योंकि आप इसे भौतिक रूप में नहीं रखते हैं।Gold ETF में निवेश करने के लिए आपके पास डीमैट अकाउंट होना आवश्यक है |
गोल्ड की कीमत Gold ETF से सीधे तौर पर जुड़ी होती है |
कुछ ही पैसों  से आप Gold ETF में निवेश कर सकते हैं |

〉 What Is Share Market In Hindi -शेयर बाजार क्या है हिंदी में और इसमें निवेश कैसे करें ?

 Gold Mutual funds (गोल्ड म्यूचुअल फंड)

अगर आप म्यूच्यूअल फंड के बारे में नहीं जानते हैं तो हम आपको यह सलाह देते हैं कि आप एक बार हमारे म्यूच्यूअल फंड वाले   ब्लॉग को पढ़ें जिससे आपको यहां समझने में आसानी होगी |

गोल्ड म्यूच्यूअल फंड ऐसे म्यूच्यूअल फंड होते हैं जो निवेशकों का पैसा विभिन्न तरह की गोल्ड पर जुड़ी हुई वित्तीय स्कीमों में पैसा निवेश करते है | 

 तो अगर आप चाहते हैं तो गोल्ड में निवेश करने के लिए यह भी एक  एक विकल्प आपके पास मौजूद है  आप गोल्ड म्यूचुअल फंड में निवेश करके अप्रत्यक्ष रूप से गोल्ड में निवेश कर सकते है |

 गोल्ड म्यूच्यूअल फंड  विभिन्न प्रकार की गोल्ड ईटीएफ से जुड़ी कंपनियों में निवेशकों का पैसा लगाते है  तथा उससे मिलने वाले रिटर्न को निवेशकों को  वापस कर देते है |

गोल्ड म्यूचुअल फंड प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सोने के भंडार में निवेश करता है। निवेश आमतौर पर सोने के उत्पादन और सिंडिकेट, भौतिक सोने और खनन कंपनियों के शेयरों के वितरण पर किया जाता है। 

〉 म्यूच्यूअल फंड क्या है हिंदी में-What Is Mutual Fund In Hindi and How To Invest ?

किसी वस्तु को उसके भौतिक रूप में खरीदे बिना संपत्ति में निवेश करना एक सुविधाजनक तरीका है।

ProsCons
 

निवेश के लिए किसी डीमैट खाते की जरूरत नहीं है

यहां पर आप को दो बार चार्जेस लगते हैं एक चार्ज तो स्वयं म्यूच्यूअल फंड से जुड़ी कंपनी लगाती है तथा एक गोल्ड ईटीएफ वाला चार्ज भी आपको देना पड़ता है |
चोरी का कोई जोखिम नहीं है क्योंकि आप इसे भौतिक रूप में नहीं रखते हैं।गोल्ड म्यूच्यूअल फंड सीधे तौर पर सोने के मूल्य पर निर्भर नहीं करते है |
गोल्ड म्यूचुअल फंड में आप न्यूनतम ₹500 से भी निवेश कर सकते है |
Gold Mutual Fund में लिक्विडिटी बहुत अच्छी होती है |
यहां पर निवेश करने से आप थोड़े से पैसों में गोल्ड की विभिन्न तरह के निवेश  से जुड़ जाते है |
 आपके पोर्टफोलियो में  एक विविधता भी आ जाती है |

 Sovereign Gold Bonds (सॉवरेन गोल्ड बांड्स)

अभी तक हमने कोई तीन प्रकार के  सोने से जुड़े निवेश को जान चुके है  आइए जानते हैं कि सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करके  सोने में निवेश कैसे करें ?  तथा सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड क्या होता है यह भी जानेंगे |

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड डिजिटल गोल्ड खरीदने का सबसे सुरक्षित तरीका है, क्योंकि वे भारत सरकार की ओर से प्रतिवर्ष 2.50% की सुनिश्चित ब्याज के साथ भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा जारी किए जाते हैं।

बांडों को 1 ग्राम की मूल इकाई के साथ सोने की इकाइयों में दर्शाया जाता है तथा आप इसमें इसी इकाई के माध्यम से निवेश कर सकते है | 

〉 सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश कैसे करें ?

Sovereign Gold Bonds   बांड में निवेश दो प्रकार से कर सकते हैं चाहे तो आप इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग करके अपने बैंक की मदद तो यह  फोन खरीद सकते हैं 

अथवा यदि आपके पास डीमैट अकाउंट है तो आप उसकी मदद से भी Sovereign Gold Bonds  बांड में निवेश आसानी से कर सकते है | 

सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की एक और विशेषता है कि यह स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेड भी करता है तो यदि आप इस की मैच्योरिटी से पहले आप इसको बेच भी सकते हैं |

Sovereign Gold Bonds की मैच्योरिटी सामान्य तौर पर 8 वर्ष की होती है जिसके बाद इसमें मिलने वाले  लाभ पर 0% का टैक्स लगता है  तो यह इस हिसाब से भी एक अच्छा निवेश हो सकता है |

यदि आप इस बैंड को 5 वर्ष से से पहले बेचने जाते हैं तो इस पर Short Term Capital Gain के हिसाब से टैक्स लगता है |

क्या आपको पता है  आप Sovereign Gold Bonds की मदद से बैंक से लोन भी प्राप्त कर सकते हैं |

ProsCons
 क्योंकि यह भारत सरकार द्वारा जारी किया गया  Bond  है तो इस पर हमें किसी भी प्रकार का संदेह नहीं होता है |आप नवीनतम 1 ग्राम से ही निवेश शुरू कर सकते हैं |
यहां पर गोल्ड द्वारा मिला हुआ रिटर्न के साथ-साथ प्रत्येक वर्ष के हिसाब से 2.5% का ब्याज हमें मिलता है |मेच्योरिटी पीरियड 8 वर्ष का होता है जो कभी-कभी काफी लंबा लगता है |
मेच्योरिटी के बाद मिले हुए लाख तक जीरो प्रतिशत का टाइप टैक्स लगता है |
क्योंकि यह स्टॉक एक्सचेंज में ट्रेड भी करता है जिसकी वजह से इसकी लिक्विडिटी भी हाई होती है |
इसमें निवेश करने के लिए डीमैट खाता आवश्यक नहीं होता है |
आप बांड के पेपर दिखा कर बैंक पर आसानी से लोन भी प्राप्त कर सकते हैं |

आपको सोने में निवेश क्यों करना चाहिए ?

दोस्तों हम आशा करते है की आपको समझ आया होगा की सोने में निवेश कैसे करें अब आइये समझतें है की आपको सोने में निवेश क्यों करना चाहिए |

एक पारंपरिक निवेशक के लिए, सबसे महत्वपूर्ण मानदंड सुरक्षा, तरलता और लाभदायक रिटर्न है। आप सोने में निवेश करते समय इन सभी मानदंडों को पूरा करने की उम्मीद कर सकते हैं। 

हालांकि, कुछ निवेशक सोने के रिटर्न को बेहद अस्थिर मानते हैं लेकिन कई निवेशकों के लिए अनिश्चितता के समय में सोना एक सुरक्षित ठिकाना साबित होता है। 

आइए कुछ बिंदुओं पर चिंतन करें जो सोने के निवेश को साबित करते हैं जो एक बुद्धिमान निर्णय हो सकता है

कोई फर्क नहीं पड़ता कि Inflation की दर क्या है, सोने के निवेश पर रिटर्न हमेशा इसके अनुरूप साबित हुआ है। संक्षेप में, कोई इस पर विचार कर सकता है कि यह एक Inflation -beat निवेश है |

एक अन्य प्रमुख कारक जो सोने के निवेश के लिए कहता है वह है तरलता; यह निवेशकों को उत्कृष्ट तरलता प्रदान करता है

आज आपने क्या सीखा 

 

दोस्तों आज हमने सीखा सोने में निवेश कैसे करें और क्या क्या है इसके फायदे और हमें कब सोने में निवेश करना चाहिए हर एक जानकारी हमने आज ली |

दोस्तों हमने इस आर्टिकल सोने में निवेश कैसे करें  इसको इस प्रकार लिखा है की आपको कंही भी दूसरी जगह भटकने की बिलकुल भी जरूरत नहीं पड़ेगी 

दोस्तों सिर्फ यही आर्टिकल नहीं हमने अपने ब्लॉग में सभी आर्टिकल को इस प्रकार लिखा है की आसानी से कोई भी समझ सकता है |

बस हमें आपका पूर्ण सहयोग चाहिए जिससे की हम आपको नए नए आर्टिकल पढने के लिए दे सकें 

अपने दोस्तों ,रिश्तेदारों,पड़ोसियों को खूब शेयर करें जिससे की हमें लिखने के लिए उत्साह मिलेगा  

अगर आपको यह लेख पढ़ने में मज़ा आया और  यदि आपके पास कोई प्रश्न है तो आप इसे  Comment Box में लिख सकते हैं। आपके  नए अनुभव के लिए शुभकामनाएँ और हमेशा आगे  बढ़ते रहें |

 

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Share
Tweet
Share
Share
Pin