Trend Patterns Analysis in Hindi

Trend Patterns Analysis in Hindi

दोस्तों हमने अपने पिछले  टेक्निकल एनालिसिस ब्लॉग में चार्ट पैटर्न के बारे में विस्तार से समझा था दोस्तों आज हम एक बहुत महत्वपूर्ण पर बात करने जा रहे हैं और  वह टॉपिक Trend Patterns Analysis in Hindi  है,  शेयर बाजार में Trending Pattern इतना महत्वपूर्ण होता है कि हर एक  तकनीकी विशेषज्ञ   शेयर बाजार में खरीदने व बेचने से पहले इसी की खोज करते हैं | 

 

आगे हम ट्रेडिंग पैटर्न को विस्तार से समझेंगे जिसमें हम आपको ट्रेडिंग पैटर्न क्या होता है ? यह कितने प्रकार के होते हैं ? तथा ट्रेडिंग पैटर्न कैसे खोजें  या पहचाने यह सारी बात विस्तार से समझेंगे |

 तो कृपया आपसे निवेदन है कि इस ब्लॉग को पूरा पढ़ें क्योंकि टेक्निकल एनालिसिस के आने वाले हर एक ब्लॉग में हम Trending Pattern का बहुत इस्तेमाल करेंगे |

 अगर आपने हमारे पिछले दो टेक्निकल एनालिसिस के ब्लॉग नहीं पढ़े हैं तो हम पहले आपको उन ब्लॉग को पढ़ने की सलाह देते हैं जिसे आप को यह समझने में आसानी हो |

〉 Technical Analysis in hindi- Part 1

〉 Technical Analysis – Chart Pattern Analysis in Hindi

तो चलिए दोस्तों अब समझते हैं Trend Patterns Analysis in Hindi

दोस्तों किसी भी चीज की शुरुआत करने से पहले हमें उसके बेसिक से  चीज पर नजर डालनी चाहिए,  तो क्या आप जानते हैं  Trend (ट्रेंड) क्या होता है ?

 ट्रेंड  क्या है  – What is Trend ?

आजकल तो हम सब ने यह सब आमतौर पर बहुत बार सुना होगा जैसे कि हम सब अक्सर बोलते हैं यूट्यूब पर ट्रेंडिंग क्या चल रहा है या ट्विटर पर या ट्रेन चल रहा है और भी बहुत कुछ |

  बिल्कुल इसी प्रकार ट्रेंड (Trend), शेयर बाजार में भी बाजार में किस तरफ की  डायरेक्शन यानी दिशा  मैं चल रहा है उस चीज को बताता है |

 ट्रेंड (Trend) को हिंदी में हम रुझान भी बोलते हैं तो आसान भाषा में समझे तो ट्रेंड बाजार के रुझान को सबके सामने प्रदर्शित करता है | 

 सामान्य तौर पर भी रुझान या तो अच्छा या खराब या इन दोनों के बीच में ही रहता है बिल्कुल उसी प्रकार शेयर बाजार में भी ट्रेंड पैटर्न तीन प्रकार के होते हैं |

Trend Patterns Analysis in Hindi

आइये अब जानते हैं trending पैटर्न के तीन प्रकार

  1. Uptrend (अपट्रेंड)
  2. Downtrend (डाउनट्रेंड)
  3. Trendless or sideways trend (ट्रेंडलेस)

rna1SB5z Trend Patterns Analysis in Hindi

Uptrend (अपट्रेंड)  पैटर्न  

 

 चार्ट  पैटर्न में जब भी समय के साथ आप देखते हो कि चार्ट ऊपर की तरफ जा रहा है तो इसका मतलब होता है कि यहां पर अब Uptrend (अपट्रेंड) पैटर्न बन रहा है |

 

 यानी कि समय के साथ शेयर का मूल्य लगातार बढ़ रहा है अब इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि शेयर लगातार बस ऊपर की तरफ बढ़ता जाए कभी-कभी यह थोड़ी सी गिरावट करते हुए भी ऊपर की तरफ चढ़ता चला जाता है उसी पैटर्न को हम Uptrend (अपट्रेंड) पैटर्न बोलते हैं |

 जैसा कि आप दी गई में से समझ सकते हैं  कि निफ्टी का चार्ट यहां पर समय के साथ ऊपर की तरफ ही बढ़ रहा है इस पैटर्न को हम Uptrend (अपट्रेंड) पैटर्न बोलते हैं |

 

Ghi6MRZP Trend Patterns Analysis in Hindi

 

बहुत से लोगों में इस चीज का  भ्रम रहता है Uptrend का मतलब केवल  ऊपर जाना ही है परंतु  इस बात पर थोड़ी कम सच्चाई क्योंकि यह पैटर्न ऊपर तो जाता है परंतु थोड़े बहुत गिरावट भी बीच-बीच में होती है |

 

अगर हम थोड़ा गणित में बात करें तो 45 डिग्री में जब लाइन बनती है तो उसे ही पर्फेक्ट अब ट्रेंड लाइन बोलते हैं | 

Downtrend (डाउनट्रेंड) पैटर्न  

 

किसी भी टेक्निकल एनालिसिस चार्ट में जब भी समय के साथ शेयर का  मूल्य लगातार नीचे गिर रहा होता है तो ऐसे  ट्रेंड पैटर्न को  Downtrend (डाउनट्रेंड) पैटर्न बोलते हैं |

 

 यह ट्रेन पैटर्न अब ट्रेन पैटर्न के बिल्कुल विपरीत होता है यहां पर भी इस बात का जरूर ध्यान रखें कि शेयर का प्राइस गिरने का मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि वह अचानक की पूरा गिर जाएगा थोड़ी-थोड़ी  ऊपर चढ़ते हुए भी नीचे गिरेगा |

 

 आगे हम आपको यह जरूर बताएंगे कि हम चार्ट में इन पैटर्न को कैसे समझ सकते हैं तथा कैसे पहचान सकते हैं और कैसे बना सकते हैं हम आपको यह सारी जानकारी आगे बताएंगे |

 

BvIf3Y0V Trend Patterns Analysis in Hindi

 

जैसा कि आप दी गई इमेज में देख रहे हैं कि शेयर का दाम धीरे धीरे  नीचे की तरफ ही जा रहा है तो इस तरह के पैटर्न को ही Downtrend (डाउनट्रेंड) पैटर्न बोलते हैं | 

Trendless or sideways trend (ट्रेंडलेस) पैटर्न 

 

ऐसा जरूरी नहीं है कि शेयर का मूल्य हमेशा ऊपर या नीचे की तरफ ही जाए कभी-कभी ना यह ऊपर और ना ही नीचे की तरफ जाता है, यह किसी भी ट्रेन को नहीं बनाता है तो ऐसी स्थिति में ऐसे पैटर्न को Trendless (ट्रेंडलेस) पैटर्न  अथवा साइडवेज़ (sideways) पैटर्न  बोलते हैं |

 

यह पैटर्न बहुत से लोगों मैं भ्रम की स्थिति पैदा करता है इसमें बहुत से लोगों को यह पता नहीं होता है कि शेयर में कब इंट्री करना उचित रहेगा |

 

o6AlGJqM Trend Patterns Analysis in Hindi

 

 जैसा कि आप दी गई इमेज में देख रहे हैं कि यहां पर शेयर का मूल्य ना तो ऊपर और ना ही नीचे  की ओर दिख रहा है परंतु इसके उलट शेयर का मूल्य समय के साथ समानांतर दिशा में आगे बढ़ रहा है तो इसी प्रकार के पैटर्न को हम Trendless (ट्रेंडलेस) पैटर्न  अथवा साइडवेज़ (sideways) पैटर्न  की कैटेगरी में रखते हैं |

 

 दोस्तों हमने अभी तक ट्रेंड पैटर्न को तथा यह कितने प्रकार के होते हैं, इसको अच्छे से समझ लिया है आइए अब जानते हैं किस समय के हिसाब से ट्रेंड पैटर्न को कितने भागों में बाँटा गया है ?

हमें आशा आप को समझ आ रहा होगा Trend Patterns Analysis in Hindi

समय के हिसाब से Trend Pattern का विभाजन 

 

समय के हिसाब से  प्रत्येक ट्रेंड पैटर्न को तीन भागों में विभाजित किया गया है :

  1. Minor Trend  
  2. Intermediate Trend
  3. Major Trend

 यहां पर ट्रेन का विभाजन समय के हिसाब से किया गया है तो यह हर एक प्रिंट पेटर्न पर बराबर लागू होता है |


 Minior Trend 


Minior trend   वह ट्रेंड होती है जिसका जिसका दौर या समय 2 से 3 सप्ताह  या ज्यादा से ज्यादा 1 महीने का होता है  इसके बाद यह ट्रेंड खत्म हो जाता है |

 इस प्रकार की Trend  माइनर ट्रेंड की श्रेणी में आती हैं |

 Intermediate Trend 

इंटरमीडिएट ट्रेंड की कोई समय सीमा 2 से 6 महीने के बीच में होती है इसके बाद यह ट्रेंड अपने आप से ही समाप्त हो जाती हैं , तो इस प्रकार की सारी ट्रेंड इसी श्रेणी में आती हैं |

  एक इंटरमीडिएट ट्रेंड में कई मायने ट्रेंड समावेशित होती हैं,  आसान भाषा में समझें तो एक इंटरमीडिएट ट्रेंड कई माइनर ट्रेंड से मिलकर बना होता है |

 आगे हम एक डायग्राम से इस बात को अच्छे से समझेंगे |

 Major Trend 


Major Trend  वह ट्रेंड होती है जिसका जिसका दौर या समय सामान्य तौर पर 6 महीने से अधिक का होता है अतः  यदि कोई ट्रेन 6 महीने या उससे अधिक समय तक  अपने आप को बनाए रखती है तो वह मेजर ट्रेन की  श्रेणी में आती है |

   मेजर ट्रेंड बहुत सी इंटरमीडिएट ट्रेंड को मिलकर बनी होती है |

JTcWPXBv Trend Patterns Analysis in Hindi

ऊपर दी गई इमेज में आप तीनों ट्रेन पैटर्न को एक साथ पहचान सकते हो जहां पर 1 से लेकर 20 तक यह पूरी मेजर ट्रेन है जो तीन इंटरमीडिएट  ट्रेन से मिलकर बनी हुई है (),  और प्रत्येक इंटरमीडिएट ट्रेन दो दो माइनर ट्रेन से मिलकर बनी हुई है |

 

 अगर हम पूरे एंड पैटर्न की बात करें तो मेजर ट्रेंड यहां पर अब ट्रेंड पैटर्न की तरह प्रदर्शित है दो इंटरमीडिएट फ्रंट बटन


एक नजर इधर भी –

9 Best Way To Use Diwali Bonus in Hindi

5 Unique Tips to make Good Credit in Hindi

〉 शेयर मार्केट टिप्स इन हिंदी-Share Market Tips In Hindi- 5 Tips

〉 निवेश क्यों जरूरी और निवेश कैसे करें ? Why Investment is so Important and How To Invest ?

〉 सोने में निवेश कैसे करें ?-How To Invest In Gold


 
ट्रेंडिंग पैटर्न का महत्व – Importance Of Trend Patterns Analysis in Hindi

शेयर बाजार में घुसने से पहले अथवा शेयर बाजार में किसी कंपनी का शेयर खरीदने से पहले हमें उसके बारे में अच्छी से जानकारी होनी चाहिए जैसे कि कंपनी क्या करती हैं कंपनी के पिछले वर्षों में कितना प्रॉफिट रहा है कंपनी का फ्यूचर कैसा है इत्यादि |

 

परंतु यह सब पता होने के बाद भी हम इस चीज को लेकर बहुत भ्रमित रहते हैं कि वह कौन सा समय है जिस समय पर हमें उस  कंपनी के शेयर को खरीदना चाहिए तो इस चीज पर टेक्निकल एनालिसिस बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है |

 

 जिस भूमिका में सबसे पहली पहल चार्ट पैटर्न की होती है और हमें इस चीज का पता होना चाहिए किस शहर का दाम अब अपट्रेंड दिशा में है या डाउनट्रेंड दिशा में है  तभी हम यह सुनिश्चित कर पाएंगे कि हमें यहां पर इस समय में शेयर खरीदना है या नहीं |

 

 दुनिया भर में जितने भी चार्ट पढ़ने वाले विशेषज्ञ हैं वह अपने टूल की मदद से शेयर बाजार का ट्रेन खोजने का प्रयत्न करते हैं, इसी बात पर हम यह समझ सकते हैं कि ट्रेंड पैटर्न को समझना कितना महत्वपूर्ण हम सबके लिए हो सकता है |

दोस्तों आपको Trend Patterns Analysis in Hindi समझ आ रहा होगा अगर कोई दिक्कत हो तो हमें कमेंट करके जरुर बतायें |

 

 ट्रेंड पैटर्न से जुड़ी महत्वपूर्ण सीख  

 

 हमने अभी जाना की टेंपरेचर समझना कितना महत्वपूर्ण है आइए आप जानते हैं इससे जुड़ी कुछ सीख :

 

  • अगर आप ट्रेन के पैटर्न के विपरीत ख़रीददारी करने का प्रयत्न करेंगे तो आपको बहुत नुकसान हो सकता है इसीलिए सबसे पहले चंद पैटर्न को समझना जरूरी है और हमेशा याद रखें की ट्रेंड पैटर्न की दिशा में ही ख़रीददारी करें |
  • इसी को ध्यान में रखते हुए इंग्लिश की बहुत बड़ी कहावत है “Never Catch the falling knife” जिसका मतलब होता है कभी भी हमें गिरते हुए चाकू को पकड़ने की कोशिश नहीं करनी चाहिए,   शेयर बाजार की भाषा में कहें तो कभी भी गिरते हुए शेयर पर  यानी डाउनट्रेंड के वक्त कंपनी के शेयर खरीदना  नुकसानदायक हो सकता है |
  • ऊपर के 2 पॉइंट से सबसे ज्यादा जरूरी यह तीसरा पॉइंट है जहां पर हमेशा ट्रेंडलाइन की सत्यता की किए बिना  किसी भी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचना चाहिए,  आगे हम आपको बताएंगे की ट्रेंडलाइन  किस किस प्रकार से की जाती है | 

 ट्रेंड पैटर्न का सत्यापन  

 

 ट्रेंड के पैटर्न के बारे में अभी तक हमने काफी कुछ जान लिया है परंतु अभी हमने यह नहीं जाना कि किसी भी ट्रेंड पैटर्न को कैसे पहचाने  और कैसे उसकी सत्यता की जांच करें |

  ट्रेंड पैटर्न की सत्यता की जांच दो बातों पर निर्भर करती है पहली की ट्रेन पैटर्न कितना पुराना है तथा दूसरी कितनी बार  वह  अपने सपोर्ट लेवल को छूकर आया है |अपने आने वाले ब्लॉग में  हम रजिस्टेंस और सपोर्ट की विस्तार से चर्चा करेंगे |

Ghi6MRZP Trend Patterns Analysis in Hindi

 

टेंट लाइन की सत्यता की जांच करने के लिए कम से कम वाटर एंड लाइन अपने सपोर्ट लेवल को तीन बार छू ले तो  तथा इसमें समय की बात करें तो समय कम से कम माइनर ट्रेन की श्रेणी में आना चाहिए |

 मतलब आसान भाषा में समझे तो समय आप अपने अनुसार चुन सकते हैं परंतु समय ऊपर दिए गए विभाजन के अनुसार ही होना चाहिए तथा ट्रेंड , ट्रेंडलाइन  किस सपोर्ट लेवल को कम से कम 3 बार छुए  तो ही आप किसी निष्कर्ष पर पहुंच सकते हैं |

 जैसा कि आप ऊपर की इमेज से देख सकते हैं कि यहां पर ट्रेंड, ट्रेंडलाइन को 4 बार  छू रहा है  और यहां पर हमने daily chart के मुताबिक पिछले 6 महीने के चार्ट को लिया है |

हमें उम्मीद है कि आपको हमारा यह ब्लॉग वेबसाइट पसंद आया  हो हमने यहां पर बहुत ही सरल भाषा में आपको यह चीजें समझाने का प्रयास किया है  परंतु यदि अभी भी आपके पास कुछ सवाल हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स पर लिख कर दे सकते हैं हम आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द देने का प्रयत्न करेंगे |

 

 यदि आपके पास हमारे लिए कोई सुझाव है तो आप हमें कमेंट बॉक्स लिखकर पर दे सकते हैं हमसे जुड़े रहने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद  अगर आपको यह ब्लॉक पसंद आया है तो हम आपसे यह उम्मीद करते हैं कि आप इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाएं  जिससे हमारे देश में वित्तीय शिक्षा के प्रति जागरूकता  अधिक हो | 

आज आपने क्या सीखा 

दोस्तों आज हमने सीखा Trend Patterns Analysis in Hindi जिसकी मदद से आपको शेयर बाज़ार में तकनिकी विश्लेषण करना और भी आसान हो जायेगा  |

दोस्तों हमने इस आर्टिकल Trend Patterns Analysis in Hindi इसको इस प्रकार लिखा है की आपको कंही भी दूसरी जगह भटकने की बिलकुल भी जरूरत नहीं पड़ेगी 

दोस्तों सिर्फ यही आर्टिकल नहीं हमने अपने ब्लॉग में सभी आर्टिकल को इस प्रकार लिखा है की आसानी से कोई भी समझ सकता है 

बस हमें आपका पूर्ण सहयोग चाहिए जिससे की हम आपको नए नए आर्टिकल पढने के लिए दे सकें | अपने दोस्तों ,रिश्तेदारों,पड़ोसियों को खूब शेयर करें जिससे की हमें लिखने के लिए उत्साह मिलेगा  

अगर आपको यह लेख पढ़ने में मज़ा आया और  यदि आपके पास कोई प्रश्न है तो आप इसे  Comment Box में लिख सकते हैं। आपके  नए अनुभव के लिए शुभकामनाएँ और हमेशा आगे  बढ़ते रहें |

FAQ

शेयर बाजार में कब किस कंपनी का शेयर खरीदना उचित रहेगा या कहे तो कब इंट्री लेना उचित  रहेगा इस चीज को समझने में जो सबसे  महत्वपूर्ण कदम होता है वह पैटर्न और ट्रेंड लाइन ही है |

एक प्रमुख उच्च या निम्न के साथ शुरू करें जैसे कि दैनिक रूप से उच्च समय सीमा पर। वहां से, यह देखने के लिए देखें कि क्या आप बाद की चढ़ाव (एक अपट्रेंड के लिए) या उच्च (डाउनट्रेंड के लिए) के साथ एक प्रवृत्ति रेखा को जोड़ सकते हैं।

 यदि कैंडलस्टिक पर ऊपरी या निचले के एक छोटे हिस्से के माध्यम से एक ट्रेंड लाइन कट जाती है तो यह ठीक है। हालांकि, एक सामान्य नियम के रूप में, एक कैंडलस्टिक के शरीर के माध्यम से एक ट्रेंड लाइन नहीं काटा जाना चाहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Share
Tweet
Share
Share
Pin